मध्यप्रदेश के इन जिलों में होने वाली हे भारी बारिश –

0
128

भोपाल। सावन का महीना बीतने को आ गया परंतु ‘मध्यप्रदेश में नदियां उफान पर’ शीर्षक के साथ एक भी खबर छापने को नहीं मिली परंतु अब स्कायमेट के मौसम विशेषज्ञों ने दावा किया है कि बारिश वाले बादल तीन तरफ से मध्यप्रदेश के आसमान पर छा जाएंगे

और 26 जुलाई से लेकर 30 जुलाई तक लगातार पांच दिन मध्य प्रदेश के 38 जिलों में बारिश की संभावना है।

hinglish to hindi translator – hindi translator online

 

मध्यप्रदेश के किन-किन जिलों में बारिश की संभावना

संडे को प्रदेश के अनूपपुर, अशोकनगर, बालाघाट, बैतूल, भोपाल, बुरहानपुर, छतरपुर, छिंदवाड़ा, दमोह, देवास, धार, डिंडोरी, हरदा, होशंगाबाद, इंदौर, जबलपुर, कटनी, खंडवा, खरगोन, मंडला, नरसिंहपुर, पन्ना, रायसेन, रीवा, सागर, सतना, सीहोर, सिवनी, शहडोल, सीधी, उमरिया, विदिशा जिलों में तेज हवाओं, गरज के साथ बारिश हो सकती है।

मुख्‍य रूप से दतिया, ग्वालियर, टीकमगढ़, उमरिया, दमोह सहित आसपास के भागों में 26 और 27 जुलाई को भारी वर्षा हो सकती है। इन भागों में 30 जुलाई तक बारिश जारी रह सकती है।

भारत के कितने राज्यों में मूसलाधार बारिश का पूर्वानुमान

स्‍कायमेट वेदर के मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि 26 जुलाई से उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, पंजाब समेत उत्तरी राज्यों में मूसलाधार वर्षा के आसार हैं। बीते सप्‍ताह मध्य प्रदेश के दक्षिणी और दक्षिण-पश्चिमी जिलों में मध्यम बारिश देखी गई।

अब 26 जुलाई से मध्य प्रदेश के उत्तरी जिलों में बारिश का क्रम बढ़ने की संभावना है। दिल्‍ली, हरियाणा, पंजाब और पश्चिम उत्‍तर प्रदेश में फिलहाल बारिश नहीं है।

मुंबई, महाराष्ट्र, कर्नाटक, केरल,असम, बिहार के कुछ हिस्सों में और पश्चिम बंगाल में अच्छी बारिश के आसार बन रहे हैं। जानिये अगले 24 घंटों में कहां कैसा मौसम रहेगा।

Mp Board 12th Result 2020 | देखे एमपी बोर्ड 12वीं परीक्षा रिजल्ट

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here