Dhar news – अतिथि शिक्षक भटक रहे कोई नहीं सुन रहा है पुकार

धार ।। अतिथि शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष राजेश धाकड़   द्वारा प्रेस वार्ता कर यह बताया कि अतिथि शिक्षक संघ लंबे समय से अपने नियमितीकरण की मांग को लेकर शासन से गुहार लगा रहा है परंतु अभी तक उनकी मांगों को नहीं सुना गया है वही माननीय ज्योतिरादित्य सिंधिया जी द्वारा  कांग्रेस सरकार द्वारा नियमित नहीं किए जाने पर सड़कों पर उतरने की बात कही गई थी 
आज अतिथि शिक्षक सिंधिया जी से पूछना चाहता है अब वह सड़कों पर क्यों नहीं उतर रहे हैं आज  उन्हें अतिथि शिक्षक की मांग और पीड़ा नहीं दिखाई दे रही है आज अतिथि शिक्षकों को दर-दर भटकने के लिए क्यों छोड़ रखा है
 पिछले 10 वर्षों से अतिथि शिक्षक नियमितीकरण की मांग कर रहे हैं माननीय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी चौहान साहब की सरकार के समय से आज वर्तमान तक अतिथि शिक्षक नियमितीकरण  की मांग को लेकर सरकार से गुहार लगा रहा है वहीं भाजपा के कई वरिष्ठ नेताओं द्वारा भी जब कांग्रेस सरकार थी 
हमारे द्वारा आंदोलन किए गए ऐसे में हमारे नियमितीकरण की आवाज उन्होंने उठाई परंतु आज जब उनकी सरकार है तब वह अतिथि शिक्षक की आवाज क्यों नहीं सुन रहे हैं क्या उनके संज्ञान में हमारी मांगे नहीं है माननीय शिवराज सिंह जी आपने भी अतिथि शिक्षकों को नियमित करने के लिए   कांग्रेस सरकार को चुनौती दी थी आज आप स्वयं मुख्यमंत्री  पद पर सुशोभित है तब आपको हमारी बातों को ध्यान में रख हमारे साथ न्याय करना चाहिए या केवल अतिथि शिक्षकों को ढाल बनाकर पक्ष और विपक्ष हम गरीब अतिथि शिक्षकों के साथ खिलवाड़ कर रहा है या केवल आप कुर्सी के मोह में उलझे हुए है मध्य प्रदेश के 70000 अतिथि शिक्षक आज आपसे आशा लगाए बैठे हैं कि आप उन्हें नियमित करें एवं लॉकडाउन अवधि में मई-जून महा का वेतनमान उन्हें देने की कृपा करें कृपया आप हमारे साथ ना तो कांग्रेश ना बीजेपी छलावा करें केवल न्याय करें । समस्त अतिथि शिक्षकों को नियमितीकरण किया जाए । 

समाचार एवं विज्ञापन हेतु संपर्क करें 

प्रधान संपादक : प्रताप भुरिया 

मो. 8815814201

झाबुआ, रतलाम एवं धार की खबरे पड़ने के लिए अभी हमारे Facebook Page को Like करे -

Jhabua alert News desk

Chief editor of jhabua alert news. Fb - https://www.fb.com/jhabuaalert Instagram - https://instagram.com/jhabuaalert

View all posts by Jhabua alert News desk →

Leave a Reply

Your email address will not be published.