*टीम वीडी के लिये मंथन तेज़*

0
16

कन्हैयालाल नायमा, भोपाल। शिवराज सिंह चौहान की कैबिनेट के दूसरे विस्तार के बाद अब भाजपा का सारा ध्यान प्रदेश संगठन को मजबूत बनाने पर है। प्रदेश अध्यक्ष पद पर ताजपोशी के पांच महीने बाद विष्णुदत्त  शर्मा अपनी कार्यकारिणी का गठन करने की तैयारी कर रहे हैं। पार्टी नेताओं का कहना है कि प्रदेश कार्यकारिणी में पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों को भी पर्याप्त प्रतिनिधित्व देने की बात कही जा रही है।
जातिगत और भौगोलिक संतुलन के साथ-साथ गुटीय संतुलन की भी रणनीति तय की जा रही है। गौरतलब है कि प्रदेश संगठन में पिछले पांच वर्षों से नई कार्यकारिणी का गठन नहीं हो पाया है। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने नंदकुमार सिंह चौहान की टीम के साथ ही काम किया था। 2015 के बाद अब प्रदेश भाजपा की नई टीम तैयार होगी। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने बुधवार रात मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ प्रदेश पदाधिकारियों के चयन पर काफी देर तक मंथन किया।

*पीढ़ी परिवर्तन का रख रहे ध्यान*
पार्टी सूत्रों के मुताबिक, जल्दी ही प्रदेश कार्यकारिणी की घोषणा की जा सकती है। कार्यकारिणी में कौन शामिल होगा, कौन नहीं। इसे लेकर जातिगत आधार से लेकर भौगोलिक और गुटीय संतुलन के तहत सारे विकल्पों पर चर्चा की गई है। पार्टी नेताओं की बैठक में जो अहम मुद्दा चर्चा में आया, उससे संगठन में भी पीढ़ी परिवर्तन के संकेत दिखाई दे रहे हैं।
भाजपा ने संगठन चुनाव के दौरान ही प्रदेश में नए चेहरों को लाने की कवायद शुरू कर दी थी। मंडल अध्यक्ष के लिए 35 साल की आयु सीमा तय कर दी गई थी। इसी तरह जिला अध्यक्ष के लिए भी अधिकतम 50 साल की आयु सीमा निर्धारित थी। माना जा रहा है कि जिस तरह से शिवराज कैबिनेट के चयन में नए चेहरों को तरजीह दी गई है, ठीक उसी तरह शर्मा की टीम में भी नए चेहरे और खासकर युवाओं की संख्या ज्यादा होगी। भाजपा प्रदेश में पीढ़ी परिवर्तन को ध्यान में रखकर ज्यादातर फैसले कर रही है।

*इनका कहना है*
संगठन की नई टीम को लेकर विचार मंथन अंतिम दौर में है। जल्दी ही कार्यकारिणी की घोषणा कर दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here