प्रेम त्रिकोण में की गई हत्या एक आरोपी गिरफ्तार

कन्हैयालाल नायमा, धारपुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह ने प्रेस से चर्चा करते हुए बताया कि 13 जुलाई 2020 को 8:00 बजे सम्राट ढाबा के पीछे सागौर कुटी पर एक लाश पड़ी होने की सूचना मिली थी जिस पर नगर पुलिस अधीक्षक पीथमपुर हरीश कुमार, टीआई पीथमपुर तारेश सोनी एवं उनकी टीम ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण करने पर यह पाया कि सम्राट ढाबे के पास वाले रास्ते पर ढाबे के पीछे की तरफ एक अज्ञात व्यक्ति का शव खून से लथपथ अवस्था में सड़क पर पड़ा हुआ था। उसके सिर व चेहरे पर चोट के गंभीर घाव थे और कपड़ों और जमीन पर खून फैला हुआ था। सिर और चेहरे पर पहुंचाई गई चोटों के कारण मृतक की पहचान स्पष्ट नहीं हो पा रही थी। पुलिस को मौके से भी मृतक की शिनाख्त में कोई साक्ष्य नहीं मिला। मृतक के दाहिने हाथ पर पवन गुदा हुआ था प्रथम दृष्टया मामला हत्या का प्रतीत होने से थाना पीथमपुर पर अपराध क्रमांक 272/2020 धारा 302, 201 भा द वि अज्ञात आरोपी के विरुद्ध प्रकरण पंजीबद्ध किया गया था। हत्या की इस घटना पर पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक देवेंद्र पाटीदार ने घटनास्थल का निरीक्षण कर हत्या की सनसनीखेज वारदात का खुलासा करने के लिए सीएसपी पीथमपुर हरीश मोटवानी, थाना प्रभारी पीथमपुर तारेश कुमार सोनी को निर्देश दिए थे। मृतक की शिनाख्त के लिए पुलिस ने अखबारों इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सोशल मीडिया के माध्यम से मृतक की शिनाख्त के प्रयास किए और अलग-अलग टीमें बनाई। पीथमपुर स्थित फैक्ट्री और में पंपलेट चस्पा करवाए गए, मजदूरों के ठेकेदारों से संपर्क किया गया, साथ ही पुलिस टीम द्वारा बाजारों में मृतक की शिनाख्त के लिए अनाउंसमेंट भी किया गया। इसी दौरान थाना बरुड जिला खरगोन के सहायक उपनिरीक्षक अरुण कुशवाहा ने थाना पीथमपुर पर सूचना दी कि थाना बरुड आर्म्स एक्ट में फरार स्थाई वारंटी पवन पाटिल के पीथमपुर में रहने की जानकारी मिली। इस पर से थाना प्रभारी तारेश सोनी द्वारा पवन पाटिल के परिजनों को बुलाकर मृतक के फोटो दिखाए गए तो परिजनों द्वारा उसे पहचान लिया गया और बताया कि पवन पाटिल के दाहिने हाथ पर पवन लिखा हुआ था। मृतक की शिनाख्त पवन पिता रमेश पाटिल जाति कुनबी उम्र 26 साल निवासी ग्राम उमरखली थाना बरुड जिला खरगोन के नाम से होने पर जानकारी जुटाई गई तो ज्ञात हुआ कि मिलकर बर्गवाफ मसाला फैक्ट्री में मजदूरी का काम करता था उसके साथ रहने वाले दोस्तों से भी पूछताछ की गई तो उन्होंने भी घटना के बारे में कोई जानकारी नहीं होना बताया। पुलिस टीमों द्वारा अज्ञात आरोपी के संबंध में लगातार प्रयास किए जा रहे थे। इसी दौरान मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई कि राम सिंह पटेल पिता दरियावसिंह पटेल जाति राजपूत उम्र 42 साल निवासी ग्राम चैनपुरा थाना मानपुर जिला इंदौर नाम का व्यक्ति मृतक पवन के साथ देखा गया था पुलिस ने रामसिंह पेंटर की तलाश कर उसको पकड़ा तो लंबी पूछताछ के बाद उसने मृतक पवन पाटिल की हत्या करना स्वीकार किया रामसिंह पटेल ने पुलिस को बताया कि वह संध्या (परिवर्तित नाम) की महिला से पिछले 3 साल से प्रेम करता था और उसके साथ उसके शारीरिक संबंध भी थे, पिछले करीबन एक साल पहले से पवन पाटिल भी उस महिला से मेल मिलाप करने लगा था। मैंने पवन पाटिल को उस महिला से दूर रहने के लिए समझाया था लेकिन वह नहीं माना। इस बात पर उससे चार-पांच महीने पहले कहासुनी भी हुई थी पवन पाटिल संध्या को मुझसे बात करने के लिए मना करता था।

घटना दिनांक 12 जुलाई 2020 रविवार रात को मैं और पवन सागौर कुटी चौराहे पर मिले पवन बोला कि चलो दारू पीते हैं। हम दोनों सम्राट ढाबे के पीछे बैठकर शराब पीने लगे उसी दौरान पवन ने मेरे सामने संध्या को फोन लगाया और स्पीकर पर बात की और उससे कहा कि जब तक मैं नहीं कहूं तब तक तू रामसिंह पटेल से बात नहीं करेगी। इसी बात पर मुझे गुस्सा आ गया और मैं बाथरूम करने के बहाने उठा और मैंने वहां पर रखा पत्थर उठाकर पवन के सिर पर मार दिया तो वह जमीन पर गिर पड़ा। फिर मैंने उसकी पहचान मिटाने के लिए पत्थर से उसके चेहरे पर कई वार किए और पवन का मोबाइल नंबर लेकर मैं मोटरसाइकिल से अपने घर चला गया। पुलिस द्वारा आरोपी रामसिंह को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से मोबाइल बरामद कर लिया गया है।

समाचार एवं विज्ञापन हेतु संपर्क करें 

प्रधान संपादक : प्रताप भुरिया 

मो. 8815814201

झाबुआ, रतलाम एवं धार की खबरे पड़ने के लिए अभी हमारे Facebook Page को Like करे -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here